हिंदी शायरी दोस्ती, friendship hindi shayari

हर इम्तिहान से गुजर जाना, इक पल ना यार घबराना.

संग साया मेरा साथ होगा, दिल का हाल मुझे  फर्माना.

तेरी खिदमत में दोड़े चले आयेगे, एक आवाज तो देना,

जब भी सताए तन्हाई, दिल से यार मुझे पुकार लेना.

हर गम समेट लेगे, बिखरने दे ना आँखों के मोती,

खुशिया बिछा देगे  कदमो में,  खुद को तुम सवार लेना.

जहां से बड़ा दोस्ताना, ये दोस्ती ना यार भूलाना.

संग साया मेरा साथ होगा, दिल का हाल मुझे फर्माना.

हर इम्तिहान से गुजर जाना…………………………

एक तू ही तो है यार सच्चा, तेरी यादों से होता है सवेरा,

गुल से सुन्दर गुलशन से सुन्दर, सोणा सा तू यार मेरा.

भवरे सा गुनगुनाये दिल मेरा, फूलो सा महकता है दिन मेरा,

मेरे होठों पर मुस्कान दे जाता है, यार मेरे ख्याल तेरा.

तुम्हारा कैसा बिता ये दिन, शाम होने से पहले बतलाना.

संग साया मेरा साथ होगा, दिल का हाल मुझे फर्माना.

हर इम्तिहान से गुजर जाना…………………………

Categories: Friendship

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *