हिंदी शायरी Hindi Shayari

ये होना ही नहीं है के तुझे भूल जाये.

मेरी सोच की दहलीज पर तुझे ना पाये.

 

जब भी सोचे हैं इक तेरा नाम था यारा,

तेरी याद में हर आंसू था मुझे गवारा.

जहां घूमके भी ना पाया तुझसा कोई,

सारे जहां में मेरा दोस्त है सबसे प्यारा.

ख्वाब मेरा के यार तुझे पास बुलाये.

मेरी सोच की दहलीज पर तुझे ना पाये.

ये होना ही नहीं है…………………..

 

हर अदा जुदा जुदा और बातों का जादू,

ख्वाब में भी देखा तेरी हरकतों का जादू.

बहुत राश आये बहुत ही यार भाये मुझे,

आँखों का जादू तेरी शरारतों का जादू.

सोच मेरी नाम तेरा और होठ मुस्कुराये.

मेरी सोच की दहलीज पर तुझे ना पाये.

ये होना ही नहीं है…………………..

Categories: Friendship

1 Comment

Usha · May 26, 2018 at 11:31 am

Aaha kya bat he.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *