सूरत का क्या है यारो,

वक़्त के साथ साथ बदल जाती है। 

लब्ज सोच समझ कर बोलिए,

क्योंकि जुबान ही पहचान बनाती है।। 

Categories: Good Morning

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *