सितारों की चदर लपेटता है जब गगन,

शुरू होता हैं तेरी यादों का कारवाँ। 

हम याद आए तुम्हे या ना आए,

मगर मेरे ख्वाब ढूंढ़ते हैं तुम्हे यहाँ वहाँ।। 

Categories: Good Night

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *