ज़िंदगी दी दुलार दिया, प्यार दिया माँ ने,

भोजन और तन पर कपड़ा दिया बाप ने। 

हे ! गुरूवर मेरे क्यू ना पूजू मैं आपको,

ज़िंदगी जीने का सलीखा दिया आप ने।। 

 

Click here for video

Categories: Uncategorized

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *